बीजापुर@ दक्षिण बस्तर के नैमेड और कोंडापल्ली के मध्य 20 मार्च की रात को नक्सलियों ने एक बोलेरो को बारूदी विस्फोट से उड़ाने की कोशिश की थी इससे बोलेरो में सवार 9 ग्रामीण घायल हो गए थे नक्सलियों ने इस घटना को अपनी गलती मानते हुए माफी मांगी है ।घटना के बाद सबसे पहले Theaw are.co.in ने सबसे पहले इस घटनाक्रम को पब्लिश किया था, जिसके बाद से ही नक्सलियो कि इस कार्यवाही की चारो तरफ जमकर निंदा हुई थी।

नक्सलियों की पश्चिमी बस्तर डिविजनल कमेटी एवम भैरमगढ़ एरिया कमेटी के द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि 20 मार्च की घटना में उनके पीएलजीए के लड़ाकों से गलती हुई थी उन्होंने पुलिस वाहन समझ कर विस्फोट किया था लेकिन वह दूसरी वाहन निकली इसी कारण इस घटना में 9 ग्रामीणों को मामूली चोट पहुँची, इससे जनता में इसका गलत संदेश गया है इसका उन्हें दुख है दोबारा ऐसी गलती नही होगी इसका आश्वासन देते हुए उन्होंने उन्होंने माफी मांगी है ।