बीजापुर @ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल के निधन पर बीजापुर विधायक और उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम मंडावी ने गहन शोक जताया है. मंडावी ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने और शोक संतप्त परिवार को अपार दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है.उन्होंने कहा कि दुःख के इस समय में वे और उनका पूरा परिवार शोक संतप्त परिवार के साथ है. श्रीमती बिंदेश्वरी देवी साक्षात ममता की प्रतिमूर्ति थीं. आज छत्तीसगढ़ प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के पश्चात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिस तत्परता के साथ किसानों को उन्नत करने, कर्ज से मुक्ति दिलाने, गांवों में गौठान का निर्माण सहित विकास का जो काम कर रहे थे उसकी प्रेरणा निश्चित रुप से उन्हें अपनी मां से ही मिलती थीं.स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, नगरीय निकाय मंत्री शिव डहरिया और राजस्व मंत्री जयसिंहअग्रवाल ने भी शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की है.
श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का पार्थिव देह रामकृष्ण अस्पताल से भिलाई-3 ले जाया गया है. आज मुक्ति धाम उम्दा रोड भिलाई तीन में दोपहर 12 बजे उनका अंतिम संस्कार होगा. मुख्यमंत्री को मातृशोक की वजह से 8 जुलाई को पूर्व से प्रस्तावित प्रदेश व्यापी आंदोलन स्थगित कर दिया गया है.

कई राष्ट्रीय नेताओं ने जताया शोक

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता जी के निधन पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, राहुल गांधी, मोतीलाल वोरा, मुकुल वासनिक, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, राजबब्बर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, मोहसिना किदवई, भाजपा के वरिष्ठ नेता बृजमोहन अग्रवाल, अजय चंद्राकर, प्रेमप्रकाश पांडे ने भी शोक जताया है. अंतिम संस्कार में कई राष्ट्रीय नेताओं के शामिल होने की भी खबर है.