दन्तेवाड़ा- दन्तेवाड़ा जिले में CRPF जवानों का मानवीय चेहरा सामने आया। दन्तेवाड़ा जिले के बीहड़ में बसे गांव की ग्रामीण ५०वर्षीय ग्रामीण महिला रामबती जिला अस्पताल दन्तेवाड़ा में ३ दिनों से बीमार होकर भर्ती थी। रामबती के शरीर पर खून की कमी थी। जिसे (B+)बी पाजेटिव ब्लड की आवश्यकता थी। CRPF230 बटालियन अल्फा कंपनी के जवान अरविंद कुमार जिला अस्पताल दन्तेवाड़ा में साथी जवानों के साथ किसी और कि मदद के लिए (B-ब्लड ग्रुप) देने पहुँचे हुये थे। मगर ब्लड बैंक में रामबती के परिजनों को रक्त के लिए परेशान देखकर जवान अरविंद ने तत्काल रक्तदान कर रामबती के परिजनों की मदद कि।

इधर दन्तेवाड़ा जिला अस्पताल में 1 अन्य मरीज पिंकी जिसे( B- ब्लड ग्रुप) ३यूनिट की आवश्यकता थी। रक्त की कमी और मुश्किल ब्लड ग्रुप की तलाश में दन्तेवाड़ा के मीडियाकर्मियों ने मदद के लिए शोसल मीडिया का सहारा लिया। व्हाट्सएप ग्रुप में मैसेज फैलते ही दन्तेवाड़ा एएसपी सूरज सिंह परिहार परिजन से सम्पर्क कर समस्या देखते हुए जिले के सभी थानों से (B- ब्लड ग्रुप ) के जवानों को ब्लड डोनेट के लिए बता दिया। इधर CRPF 230 बटालियन के कमाण्डेट डब्ल्यू आर जोसुआ ने कुन्देली कैम्प से भी जवानों को जिला अस्पताल मदद के लिये भेज दिया। जिला अस्पताल 230 बटालियन के जवान हिमांशु जोशी, और सन्तोष कुमार ने 2 यूनिट ब्लड जिला अस्पताल में भर्ती पिंकी चौहान को देकर मदद कर दी। साथ ही मीडियाकर्मी साथियो ने भी आवश्यक रक्त के लिए रक्तदाताओं से संपर्क कर मदद करते रहे। यह पहला अवसर और नई बात नही है। जरूरत पड़ने पर दन्तेवाड़ा की मीडिया,पुलिस,सीआरपीएफ के जवान कई ग्रामीणों की जान बचाने के लिए ब्लड डोनेट कर या परिजनों की मदद कर जान बचाने के लिए सराहनीय योगदान देते रहे है।