जगदलपुर @ मेकाज में प्रबंधन की लापरवाही से खराब हुए 30 हजार ब्लड सैंपल के मामले में विधायक रेखचंद जैन ने प्रबंधन की कार्यशैली और लापरवाही पर नाराजगी जताते हुए डीन डॉ. यूएस पैकरा को तलब किया है। जिम्मेदार पद पर बैठे डीन ने ऐसा काम किया है तो ये बेहद गलत और गैरजिम्मेदाराना काम है। इसकी रिपोर्ट तत्काल बनाकर दें। इसमें जो भी दोषी होगा उसके ऊपर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। यहां प्रदेश की जनता इलाज करवाने आती है। ऐसे में उसका पूरी ईमानदारी के साथ इलाज होना चाहिए। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही न तो पसंद है और न ही बर्दाश्त।

देखें विधायक रेखचन्द जैन ने क्या कहा,

क्या कहा था डीन ने कल:
दरअसल 30 हजार ब्लड सैंपल डिमरापाल मेडिकल कॉलेज प्रबंधन की लापरवाही के कारण खराब हो गए। इसकी जानकारी होने पर टीआरपी की टीम ने मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ यूएस पैकरा से उनका पक्ष जानने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि ममुझको इसकी जानकारी नहीं है। तो वहीं जब उनसे पूछा गया कि क्या आप कभी लैब में नहीं जाते। तो उन्होंने तपाक से कहा कि मैं रोज -रोज लैब में जाकर थोड़े ही न देखूंगा।