दंतेवाड़ा @:- हनुमान जन्मोत्सव के शुभ अवसर पर किरंदुल के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ा गया । किरंदुल के गांधीनगर पर स्थित नन्दी पर्वत पर हनुमान जी की विशालकाय मूर्ति का अनावरण किया गया। यूँ तो किरंदुल क्षेत्र पहले से ही लौह पत्थर और बैलाडीला पहाड़ियों के मनोरम दृश्यों की वजह से पर्यटन के क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बना चुका है परन्तु इस विशालकाय हनुमान जी प्रतिमा ने पर्यटन की दृष्टिकोण से एक नया पन्ना जोड़ दिया है ।