दंतेवाड़ा@गीदम के कांग्रेस नगर अध्यक्ष मिनाज खान पर भाजपा नेता व बचेली मंडल महामंत्री कामो कुंजाम ने एक युवती के अपहरण का आरोप लगाया है। कामो कुंजाम ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कांग्रेस को आड़े हाँथों लेते कहा कि कांग्रेस के राज के हिंदू बहन बेटियाँ सुरक्षित नहीं हैं। पहले किरन्दूल के एक कांग्रेसी नेता बबलू सिद्दीक़ी ने हिंदुओं के विरुद्ध फ़ेसबुक में घोर आपत्तिजनक टिप्पणी की और अब गीदम के कांग्रेस नगर अध्यक्ष द्वारा युवती के अपहरण का मामला सामने आया है। उन्होंने कहा इससे स्पष्ट होता कि कांग्रेस के संरक्षण में ही इन नेताओं के हौसले बुलंद हैं। प्रदेश में क़ानून व्यवस्था इतनी खरब हो चली है कि अब इनके नेता हिंदू बहन बेटियों का अपहरण और शोषण करने से भी पीछे नहीं हट रहे।

उन्होंने आरोप लगाते कहा की मिनाज खान शादीशुदा है इसके बावजूद युवती का शोषण करने कई वर्षों से नौकरी का झाँसा देता रहा और 26 मई को उसे लेकर फ़रार हो गया। उन्होंने विज्ञप्ति में उल्लेख करते कहा की कांग्रेस में अब नेता नहीं केवल असामाजिक तत्व शामिल हैं। यही कारण है इनके शासन में प्रदेश में हिंदू बहन बेटियाँ सुरक्षित नहीं हैं। सत्ता के संरक्षण के चलते ही अब इनके नेता हिंदू बहन बेटियों का शोषण और अपहरण करने से भी बाज नहीं आ रहे। उन्होंने इस घटना की निंदा करते आरोपी के विरुद्ध अपहरण का मामला दर्ज कर कारवाई की माँग की है। वहीं उन्होंने पुलिस को भी आड़े हाँथों लेते कहा की पुलिस आरोपियों के विरुद्ध कठोर कारवाई नहीं करती, जिससे इनके हौसले बुलंद होते जा रहे। बबलू सिद्दीक़ी के विरुद्ध भी पुलिस का ढुलमुल रवैय्या रहा है। एफ़आईआर दर्ज होने और बेल रिजेक्ट होने के बावजूद आज पर्यंत तक पुलिस बबलू सिद्दीक़ी को गिरफ़्तार नहीं कर सकी है। उन्होंने कहा बबलू को गिरफ़्तार नहीं करने कांग्रेस नेताओं द्वारा लगातार पुलिस पर दबाव बनाया जा रहा है, इसलिए एफ़आईआर के दस दिनों बाद भी आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर है। वहीं इस मामले में शिकायत पत्र में लड़की के पिता ने अंतिम बार मिनाज के साथ देखे जाने की बात कही है ऐसे उसके विरुद्ध अपहरण का मामला दर्ज करने के बजाए गुमशुदगी का मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा की पुलिस की कारवाई से प्रतीत होता है की शासन के दबाव में पुलिस के हाँथ बंधे हुए हैं और कांग्रेसी नेताओं को असामाजिक कृत्य करने खुला संरक्षण मिला हुआ है। कांग्रेस क़ानून व्यवस्था को लेकर कितनी गम्भीर है आसानी से समझा जा सकता है। उन्होंने चेतावनी देते कहा कि यदि समय रहते इन आरोपियों के विरुद्ध कठोर कारवाई नहीं की गयी तो भाजपा पीड़ितों को न्याय दिलाने सड़क पर उतरने विवश होगी।