दन्तेवाड़ा@ प्रदेश सरकार साक्षरता को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम चलवा रही हैं। साक्षरता के इस कार्यक्रम के अंतर्गत शिक्षा की मुख्यधारा से वंचित कम पढ़े लिखे लोगो को डिजिटल साक्षर बनाने की जिम्मेदारी राज्य साक्षरता मिशन ने उठाई है।

दन्तेवाड़ा-ई-साक्षरता का ज्ञान लेते

दन्तेवाड़ा में भी साक्षरता मिशन के इस नये मोड के तहत जिले के १४वर्ष से ६० वर्ष के महिला पुरुष को कम्प्यूटर,इंटरनेट, मोबाइल संचालन के साथ सूचनाओं के आदान-प्रदान के आसान तरीके सिखाये जा रहे है।

शहर के हुडको कालोनी आवराभांटा में इसी कार्यक्रम के तहत लोगो को साक्षरता का डिजिटल ज्ञान दिया जा रहा है। बीते 25 अक्टूबर को विद्याथियों का आंतरिक मूल्यांकन ई-एजुकेटर के तहत लिया गया। साथ ही ब्राह्य टेस्ट में २४ विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। जिसमें से 17 लोग सफल भी हुये। इसी कार्यक्रम के तहत छठवें बैच के लिए पंजीयन भी शुरू हो गया है। सरकार का यह कार्यक्रम निःशुल्क है। ५वे बैच के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जगन्नाथ देव,प्रशांत शर्मा,शिवप्रसाद मिश्रा,राजेश झाड़ी,टोचन सिंह, जनकवती,कु0तारनी और कु0 विमला पाल ने महत्वपूर्ण सराहनीय योगदान दिया।