दन्तेवाड़ा@कटेकल्याण से 15 किलोमीटर दूर मारजूम गांव बेहद ही संवेदनशील नक्सली पकड़ वाला इलाका है। शहीदी सप्ताह के पहले ही दिन दन्तेवाड़ा से डीआरजी के जवानों का दल इस इलाके में नक्सली मौजूदगी की खबर पाकर निकला था। जहाँ 30 से 35 नक्सली चिकपाल में नया फोर्स के कैम्प का विरोध करने आये थे. डीआरजी के जवानों ने नक्सलियों को घेरते हुए मारजूम जंगलो में पहाड़ी की टेकरी के ऊपर लगे नक्सली कैम्प में धावा बोल दिया था। तकरीबन 20 से 25 मिंट हैवी फायरिंग दोनों तरफ से चली है। नक्सली कैम्प छोड़कर पहाड़ी के दूसरी हिस्से में जंगलो का सहारा लेकर भाग निकलने में कामयाब रहे। वही बताया जा रहा है नक्सली कैम्प में नक्सली दैनिक उपयोग के सामान, रशद, और बहुत सारा सामान छोड़ भागे है।

दन्तेवाड़ा में 03 दिन से लगातार भारी बारिश जारी है। उसके बावजूद भी दन्तेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने सभी थानों में नक्सली अलर्ट जारी कर सर्च ऑपरेशन चला रखा है।