दंतेवाड़ा@ नगर पालिका दंतेवाड़ा में सामान्य सभा की बैठक गुरुवार को हुई सामान्य सभा की बैठक में कांग्रेसी पार्षदों ने नगर पालिका में वार्डो पर होने वाले निर्माण कार्यो के पूरी टेंडर प्रक्रिया को कटघरे में खड़े करते हुए सवाल खड़े कर दिये। नाराज सभी कांग्रेस पार्षद सामान्य सभा की बैठक से वाक आउट भी कर दिये।

इन कार्यो पर उठा विवाद

दरअसल पार्षद कांग्रेसी पार्षद मनीष भटाचार्य ने आरोप लगाया कि नगरपालिका में जारी टेंडरों की नोटिश सूचना पटल पर नही लगाई जाती। डेढ़ लाख के पार्षद निधी पर अमूमन 20 ठेकेदार टेंडर फॉर्म लेते हैं। मगर डेढ़ करोड़ के काम मे केवल 5 ही ठेकेदारो ने भाग लिया. वही नगरपालिका में जब खुली निविदा होती है तो अधिकतर निविदा कम्पीटीशन के चलते बिलो में पास होती है। लेकिन डेढ़ करोड़ के कार्यो के सभी टेंडर निविदा दर से अधिक रेट में पास होना निष्पक्ष टेंडर प्रक्रिया पर कई सवाल खड़े कर रहा है। शासन की महत्वपूर्ण योजना पौनी पसरी पर गड़बड़ी है। नाराज़ पार्षदों ने कहा कि नगरीय प्रशासकीय मंत्री से लेकर दंतेवाड़ा विधायक देवती कर्मा के पास शिकायत लेकर जायेगे। इन कामो पर लगे सभी टेंडर निरस्त कर खुली निविदा आमंत्रण की जाये।

वही नगरपालिका दंतेवाड़ा सीएमओ लाल सिंह मरकाम

ने कहा कि कोई कार्य सेंटिग में नही है। निविदाकारों में जिसका रेट मिनिमम है उसे ही टेंडर दिया है। पूरी तरह से पारदर्शिता बरती गई है।