दंतेवाड़ा- जिले के 4 आदिवासी बच्चों ने जेईई एडवांस की परीक्षा को क्वालीफाई कर जिले का नाम रोशन किया है। इन सभी बच्चों को अब देश के सर्वोच्च प्रौद्योगिकी संस्थान में पढ़ाई करने के लिये दाखिला मिलेगा।
इस हेतु उक्त बच्चों को प्रवेश सम्बन्धी काउंसलिंग प्रक्रिया में सम्मिलित होना पड़ेगा। ये सभी बच्चे छूलो आसमान संस्था में अध्ययनरत थे। जिले में इंजीनियरिंग, चिकित्सा, कृषि इत्यादि उच्च शिक्षा हेतु प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिये वर्ष 2011-12 से संचालित इस छूलो आसमान संस्था से पहली बार 4 बच्चों ने जेईई एडवांस परीक्षा क्वालीफाई कर एक नया इतिहास रच दिया है।
इस वर्ष 4 बच्चों संतुराम कुंजाम, किरण बघेल,हरीश बघेल और वेदप्रकाश ने उक्त प्रतिष्ठापूर्ण परीक्षा में सफलता हासिल किया है। ये सभी बच्चे अनुसूचित जनजाति वर्ग के हैं और खेती-किसानी करने वाले परिवारों से ताल्लुक रखते हैं। छूलो आसमान संस्था से अब तक एनआइटी और चिकित्सा महाविद्यालय, वेटनरी कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज में दाखिला के लिये ही बच्चों ने प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता हासिल किया था।
जेईई एडवांस परीक्षा में जिले के 4 बच्चों की सफलता से कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने इन बच्चों को बधाई देते हुए उन्हें उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी है। उन्होंने इन बच्चों की सफलता को अन्य बच्चों के लिये प्रेरणास्पद निरूपित करते हुए आगामी वर्ष में अधिक से अधिक बच्चों की सफलता हेतु सकारात्मक पहल किये जाने की कटिबद्धता व्यक्त की है। उन्होंने जेईई एडवांस में सफल बच्चों की आईआईटी में दाखिला हेतु प्रवेश प्रक्रिया को पूर्ण करने के लिये सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है।