दंतेवाड़ा- लॉक डाउन और मजबूर मजदूर का दीगर राज्यो में फसना ऐसे हालतों उन तक राहत सामग्री पहुँचाना किसी चिनौति से कम नही, पर दंतेवाड़ा जिला कलेक्टर और उनकी टीम दंतेवाड़ा से दीगर प्रदेशो में फंसे मजदूरों की समस्या जहाँ से भी जैसे भी आती है उसे पूरी कर इस संकटकाल में दंतेवाड़ा जिले के आदिवासी मजदूरों के लिए कोरोना वारियर्स बनकर युद्ध स्तर पर लगे हुये है।
दरअसल तेलंगाना के मजदूर ने दंतेवाड़ा के THEAWARE.CO.IN संचालक से व्हाट्सएप के माध्यम से मदद अपने हालात बताते हुये मदद मांगी थी। हमने समस्या दंतेवाड़ा कलेक्टर को अवगत करवा दी। मामले की गम्भीरता और राशन संकट से उभारने के लिए दंतेवाड़ा कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने बचेली एसडीएम प्रकाश भारद्वाज व आस्था राजपूत डिप्टी कलेक्टर को निर्देशित किया, नेलीपाका में फंसे मजदूरों से सम्पर्क कर मजदूरों के खाता नम्बर सभी 14 मजदूरों के मंगवाये गये। सभी के खाते में राहत सामग्री खरीदने के लिए4000 रुपये ट्रांसफर करवाया गया ताकि मजदूरों की समस्या हल हो सके।
इस तरह की चेन लिंक बनाकर मजदूरों तक राहत सामग्री पहुँचना कार्य के प्रति सजगता,सम्वेदनशीलता और तत्परता दंतेवाड़ा प्रशासन का दर्शाता है। theaware की तरफ से प्रशासन की इस तरह त्वरित पहल पर हम बधाई देते है।