दंतेवाड़ा@ कोविड-१९ संक्रमण वैश्विक महामारी घोषित है। जिसके चपेट में भारत के भी कुछ राज्य समा गये है. इसीलिए भारतवर्ष में बचाव के लिए लॉक डाउन अपनाया जा रहा है। बस्तर में तैनात सीआरपीएफ नक्सलियों से मुकाबले के साथ इस समय कोरोना के खिलाफ भी बड़ी लड़ाई का मोर्चा खोले हुये है।
सड़क से जंगलो तक तैनात केंद्रीय बल के जवान इस समय विशेष सीविक एक्शन प्लान चलाकर ग्रामीणों को कोरोना के खिलाफ लड़ना सीखा रहे है। उन्हें हैंड सेनाइज़र,मास्क,हाथ के साबुन भी बांटे जा रहे हैं। अरनपुर में लगे इस मेडिकल कैम्प में जवानों ने ग्रामीणों को राशन,खेलकूद सामग्री, के साथ कोरोना से बचाव के लिए इस्तेमाल समान और सुझाव भी दिए.
इस कैम्प में सीआरपीएफ 111 बटालियन के सेकेंड कमान अधिकारी अरुण कुमार सज्जा, हर्षपाल सिंह,अविनाश कुमार,अमित सिंह, और मेडिकल आफिसर डॉक्टर शिवा मौजूद रहे।
सीआरपीएफ अधिकारी अरुण कुमार सज्जा के नेतृत्व में इस कार्यक्रम में पटेलपारा, बंडीपारा, धुरवापारा के ग्रामीण पहुँचे थे, जिनमें से 50 से अधिक ग्रामीणों को कोविड-१९ से बचाव सामग्री दी गयी तो वही बच्चों को खेलकूद समान और राशन भी बांटा गया। इस अवसर पर अरुण कुमार सज्जा ने कहा कि इस वक्त कोई भी भूखा न रहे हमें एक दूसरे की मदद कर कोरोना को हराना है।