दंतेवाड़ा@ जिले के कटेकल्याण ब्लाक में कोरोना काल के समय भी शिक्षकों की लापरवाही निकलकर सामने आई है। दरअसल बीईओ कार्यलय से एक नोटिश ब्लाक मुख्यालय के अंतर्गत 5 संकुल के और 9 शिक्षकों को बीईओ ने सीआरसी बेंगलूर,चिकपाल, तुमकपाल, भूसारास, गाटम के बीते सप्ताह 22 जून को दिये वेतन पत्रक देखकर जारी किया था।

ये सभी शिक्षक कोविड काल में भी नदारत रहे। इन्ही शिक्षकों में एक शिक्षक मारजूम प्राथमिक विद्यालय पटेलपारा में पदस्थ भिखेश्वर नुरेटी के साथ नौ शिक्षक है। जिन्हें स्पष्टीकरण नोटिश थमाया गया था देखिये नदारत शिक्षकों की सूची

जारी नोटिश

इन शिक्षको की लापरवाही के चलते मारजूम जैसे अंदुरुनी गांव में सुखा राशन भी नही बंट पाया होगा। दूसरी तरफ इन्ही शिक्षकों में भिखेश्वर नुरेटी नाम के शिक्षक ने अभी हाल में कटेकल्याण मंडल संयोजक पर अवैध वसूली के आरोप जड़े थे। जिसके जबाब में एसडीएम अविनाश मिश्रा को जांच का जिम्मा मिला है। जिस जांच में तत्कालिक अधीक्षक भिखेश्वर नुरेटी जिन्होंने शिकायत की थी, उन पर भी आश्रम की राशि एक मुश्त दोहन करने की बात सामने आई थी। और अब इस तरह महीनों नदारत रहकर दूसरी लापरवाही फिर से उजागर हो गयी।जो भी हो कटेकल्याण में जो भी शिक्षक अंदुरुनी इलाको में शिक्षकीय कार्य मे डियूटीरत है। वे अक्सर क्षेत्र की संवेदशीलता का फायदा उठाकर डियूटी से नदारत भी रहते हैं।

कृष्ण कुमार साहू बीईओ कटेकल्याण

लापरवाह शिक्षकों को कारण बताओ नोटिश जारी किया गया है अगर संतोषप्रद जबाब नही आया तो जून महीने का वेतन काट दिया जाएगा। साथ ही उच्च अधिकारियों को भी इनकी कार्यशैली से अवगत कराया जायेगा।