दंतेवाड़ा@ गीदम ब्लाक के जोड़ातरई गांव में एक साथ 72 ग्रामीणों की जांच में 32 लोग कोरोना संक्रमित मिलने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है।वही दूसरे दिन 02 और संक्रमितों की पुष्टी के साथ आंकड़ा 34 पहुँच गया। दरअसल दंतेवाड़ा जिले में 6 मई तक लॉक डाउन प्रशासन ने लगा रखा है। उसके बावजूद भी ग्रामीणों ने शनिवार को गांव के एक ग्रामीण की मौत के बाद अंतिम संस्कार कार्यक्रम में जुटे। जिसके बाद ग्रामीणों ने सामूहिक भोज भी किया तभी से अचानक लोगो की तबियत बिगड़नी शुरू हुई।

इधर मामले की पुष्टी गीदम तहसील प्रीति दुर्गम ने करते हुए जानकारी दी कि गांव को कन्टेंमेंट ज़ोन बनाकर सीलबंद करवा दिया है। साथ ही पूरे गांव में लगातार सेनेटाइज़र छिड़काव करवा जा रहा है।

सबसे बड़ी बात यह है जब कोविड संक्रमण ग्रामीण स्तरों पर तेजी से पाव पसार रहा है। तो ग्रामीण आखिर अंतिम संस्कार कार्यक्रम में एकसाथ एकजुट कैसे हो गये, जबकि ग्राम सचिव सरपंच सभी को प्रशासन ने जबाबदारी सौपी है कि कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए एक साथ कहि भी लोगो की भीड़ जमा न हो पाये। गांव में मुनादी कर जागरूकता अभियान चलाये। दंतेवाड़ा जिले के पिछड़े इलाकों में यदि इसी तरह से कमनुयुटी स्प्रीड में संक्रमित मरीज निकलते रहे तो बड़ी मुसीबत दंतेवाड़ा जिले में खड़े होते देर नही लगेगी।