बीजापुर @:- यहां नगर हृदयस्थल स्थित पालिका लॉज की निविदा और आबंटन को लेकर सियासी पारा गर्म होता जा रहा है। कल प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव अजय सिंह ने ठेकेदार किरण रेड्डी और तात्कालीन नगर पालिका अधिकारी मोबिन अली की सांठगांठ से निविदा में गड़बड़ी का आरोप लगाते बीजापुर कलेक्टर को निर्माण कार्य को निष्पक्ष जांच कराये जाने तक रोकने की लिखित शिकायत की थी। आज नगरपालिक वार्ड क्रमांक 07 शांतिनगर के पाषर्द और बीजापुर झुग्गी झोंपड़ी प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष पुरुषोत्तम सल्लुर ने तात्कालीन सीएमओ मोबिन अली पर परिषद की बैठक में पार्षदों को गुमराह कर हस्ताक्षर लेने का आरोप लगाया है।

सुनिये पार्षद की जुबानी,

पुरुषोत्तम सल्लुर, पार्षद, न. पा बीजापुर

पार्षदों के आरोप है कि 10/04/2018 की परिषद की बैठक में 13 बिंदुओं पर चर्चा की गई थी जिसमे पालिका लॉज का महत्वपूर्ण मुद्दा एजेंडा का विषय नही था। किसी भी पार्षद को इसकी जानकारी नही थी। मामला तब प्रकाश में आया जब पुराने बस स्टैंड में निर्माणाधीन भवन के प्रथम तल में लॉज बनाए जाने की जानकारी हुई। ( 68,11000 ) अड़सठ लाख ग्यारह हजार की नीलामी जैसी कोई भी मुद्दा एजेंडे में नही होना एक बड़ी कूटरचना की ओर इशारा करता है।
बड़ा सवाल है कि जिन आवेदकों ने पालिका लॉज की नीलामी के लिए आवेदन किये हैं किसी भी आवेदन में दिनांक नही लिखा गया है। जिन आठ निविदाकारों ने विविदा प्रपत्र खरीदें उन्होंने आवेदन में दिनांक खाली छोड़ दिये या इसीलिए लिए छोड़ा गया होगा कि अपने खासमखास ठेकेदार को तात्कालीन सीएमओ मोबिन अली फायदा पहुंचा सकें।
गौरतलब हो कि निविदाकार अपने पंजीकृत लेटर पैड पर ही आवेदन करते हैं। जिसमे संबंधित फर्म या कंपिनी लिमिटेड का नाम उल्लेखित होता है। जिले के बाहर से व्यवसाइयों ने आवेदन किये हैं जिसमे किसी भी पंजीकृत फर्म का पंजीयन प्रपत्र भी आवेदन में नस्ती नही किया गया है। आवेदनों के पैटर्न और हस्ताक्षरों को देखकर लगता है कि एक ही व्यक्ति ने इन आवेदनों को योजनाबद्ध ढंग से भरकर जमा किया है।
जिन व्यवसाइयों ने आवेदन किये थे उनके नाम हैं। के. सत्यनारायण, महालक्ष्मी ट्रेडर्स, संजय ट्रेडिंग, दिनेश कुमार केला, अरशद हुसैन, रायपुर सुकमा गुड्स ट्रांसपोर्ट- प्रोपराइटर- दुर्गेश नाहटा, सुमित इंटरपरिजेस केशकाल, सुशांत ठाकुर, जी वेंकटेश्वर ने आवेदन किया था। बतादें इसमे दिनेश कुमार केला और महालक्ष्मी ट्रेडर्स के प्रोपराइटर दोनों रिश्तेदार हैं।