दन्तेवाड़ा/बीजापुर@ बीजापुर में सुप्रीम कोर्ट से सीबीआई जांच टीम एडसमेटा कथित मुठभेड़ मामले की जांच के लिए बीजापुर पहुँची। जहाँ ग्रामीणों की पैरवी करने वाली वकील सारिका जैन भी मौजूद थी। बीजापुर से 15 किलोमीटर दूर बसे गांव एडसमेटा से ग्रामीण ब्यान दर्ज करवाने बीजापुर पहुँचे थे। उक्त घटना में घायल छोटू, कारम छन्नू, पुनेम सोमलू, कारम आयतू के ब्यान दर्ज हुए।

दरअसल 6 साल पहले गंगालूर थानाक्षेत्र के एडसमेटा गांव में सुरक्षा बलों के दल के साथ 1 कथित मुठभेड़ हुई थी. जिस पर कथित 8 नक्सलियों की मौत व 1 जवान शहीद हुआ था.

इसी मुठभेड़ को लेकर ग्रामीणों ने आरोप लगाया था कि बीज पंडुम के लिए जमा ग्रामीणों को सुरक्षा बलों ने मार दिया। घटना के जबरदस्त विरोध हुआ जिसकी एफआईआर गंगालूर थाने में दर्ज है।