बीजापुर @ :- बीती रात पुलिस ने प्रतिबंधित नशीली दवाई के साथ दो युवकों की हिरासत में लिया है। दोनो युवक पल्सर बाइक में छुपाकर तेलंगाना से बीजापुर लाकर इस दवाई को खपाने की फिराक में थे। मुखबिर की सूचना पर दोनो युवकों को बस स्टैंड के पास नाकाबंदी कर उनके पास बेग में रखे समान की चेकिंग की गई जिसमें 1500 टेबलेट बरामद की गई है। बरामद प्रतिबंधित दवाई अल्फरज़ोलम .05 एमजी, स्पास्मो प्रोक्सीवोंन-प्लस की कीमत 1500 हजार के करीब आंकी जा रही है। दोनो आरोपी युवकों को न्यू बस स्टैंड बीजापुर से हिरासत में लेकर न्यायालय में पेश करने की तैयारी कोतवाली पुलिस कर रही है।

हिरासत में लिए गए भावसिंह ने बताया कि तेलंगाना के बहुत कम दाम में ये दवाइयां खरीदकर वो तेलंगाना के वेंकटापुरम से बीजापुर लाये थे। एक दोस्त की सलाह पर वो ये काम करते थे। बरामद दवाइयों की कीमत करीब 15 हज़ार रुपये आंकी गई है जिसमे 1500 टैबलेट जब्ती की गई है। गिरफ्तार दोनो आरोली बीजापुर नगर के शांतिनगर के रहने वाले हैं।जिनमे नाम भावसिंह मण्डावी और मनोज मोडियम हैं।

लंबे समय से बीजापुर में नशीली दवाइयों की तस्करी की खबरें आ रहीं थी मगर पुलिस के हाथ सबूत नही लग रहा था, आखिरखार पुलिस ने सटीक सूत्रों के आधार पर इस बड़े तस्करी को अंजाम देने वाले आरोपियों के साथ बड़ी खेप भी बरामद की है।

थाना प्रभारी चंद्रशेकर बारीक ने बताया कि इन दोनों आरोपियों के खिलाफ नारकोटिक्स की धारा 22B के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है।