दन्तेवाड़ा/ बारसूर:-

बारसूर थानाक्षेत्र अंतर्गत मंगनार गांव के पास एक ग्रामीण युवक का शव भीभत्स तरीके से सड़क के बीच मृत अवस्था में पड़ा हुआ था. जिसके आसपास पेड़ो पर व पथ्थरों के नीचे नक्सलियों के पर्चे भी लगे हुये है.

नक्सलियों की पूर्वी बस्तर डिवीजन ने इस हत्या की जबाबदारी लेते हुए, पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाते हुए मौत की वजह बता रहे है. हालांकि अब तक शव की शिनाख्त नही हो पाई है कि मृतक किस गांव का निवासी है और कौन है जिसकी पतासाजी में बारसूर लग गयी है। बारसूर टीआई सावन सारथी ने जानकारी दी कि आसपास के ग्रामीणों से पूछताछ कर शव की शिनाख्त कर आगे की कार्यवाही कि जा रही है.

इधर हफ्ते भर में यह दूसरी घटना जब नक्सलियों ने पुलिस मुखबीरी का आरोप लगाते हुए किसी ग्रामीण को मौत के घाट उतारा है। घटना के बाद से इलाके में दहशत और डर का माहौल बन गया है। जब से बोदली के पास कैम्प खुला है. नक्सली चहल कदमी और विरोध के सुर भी उठ रहे है। क्योंकि बारसूर का अधिकांश हिस्सा नक्सली पकड़ के मद्देनजर मजबूत था.सरकता जनाधार भी हत्या का कारण हो सकता है।