दन्तेवाड़ा@ हर खाकी वर्दी का मतलब ईमानदारी होता है। मगर जब खाकी वर्दी पहनकर चोर चोरियों को अंजाम देने लगे। तो क्या कहिएगा। पूरा मामला उस वक्त उजागर हुआ जब कतेकल्यान थाना प्रभारी सलीम खाखा ने जांच में 1 बुलेरो वाहन क्रमांक सीजी 18M7525 नम्बर की गाड़ी बेरियर में पकड़ी जिसे चलाने वाला पुलिस की वर्दी में था।
आरोपी- राजू की तस्वीर

पुलिस ने सन्देह के आधार पर गाड़ी को रोककर पूछताछ की क्योकि इस क्षेत्र में वैसे भी पुलिस कर्मी अकेले इस तरह से वर्दी में नही निकलते है। पूछताछ करने पर वाहन चालक ने पहले तो अपने आप को जगदलपुर पुलिस स्टाफ का होना बताया
जप्त वाहन की तस्वीर
जिन्हें कड़ाई से पूछताछ करने पर बोलेरो गाड़ी को चित्रकोट से कल चोरी कर ले जाना और रात को तोंगपाल क्षेत्र में रखने की बात कबूल ली। लोहण्डीगुड़ा थाना प्रभारी से कटेकल्यान टीआई ने सम्पर्क करने पर आरोपी राजू पिता रविन्द्र के विरूद्ध अप. क. 72/2019 धारा 392,170,171 भा.द.वि. का मामला दर्ज होना बताया जिन्हें थाना प्रभारी लोहण्डीगुड़ा को सुपुर्द किया गया । आपको बता दे कि कल इस गाड़ी की तलाश में जगदलपुर की फोर्स जगह जगह बेरियर लगा पड़ताल कर रही थी। इसीलिए बहरूपिये पुलिसिया चोर ने अंदर के रास्ते का इस्तेमाल किया। पकड़ में आया राजू कोड़ेनार थानाक्षेत्र के दुगनपाल का निवासी के रुप में शिनाख्त हुई है।