दन्तेवाड़ा@ पूरे बस्तर संभाग में पिछले 24 घण्टो से लगातार बारिश जारी है। बारिश से इलाका तरबतर है। छोटी छोटी नदिया अपने चरम उफान पर है। खासकर दन्तेवाड़ा, सुकमा और बीजापुर में कनेक्टिविटी वाली नदियों ने मुख्यमार्गों को रोकना भी शुरू कर दिया है। जिसके चलते बाढ़ के हालात से लोगो को जुझना पड़ रहा है।

दन्तेवाड़ा जिले में कटेकल्याण मार्ग पर डूमाम नदी उफान पर है जिसके चलते कटेकल्याण से दन्तेवाड़ा का सम्पर्क टूट गया था। इधर नकुलनार से पास से गुजरने वाला टेमरू नाला उफान में आकर गंजेनार और मसेनार के पास ब्रिज के ऊपर से निकल गया है। जिसके चलते ग्रामीणों का जिला मुख्यालय से सम्पर्क टूट गया है।

बीजापुर में भी बीती रात से मूसलाधार बारिश के चलते बीजापुर का तेलंगाना और महाराष्ट्र से टूटा संपर्क सा गया। इंद्रावती, तालपेरु, मिंगाचल नदी समेत आसपास के कई नदी नाले उफान पर है। चेरपाल, गंगालूर, तारलागुड़ा, तोयनार समेत 1 दर्जन से अधिक गांवों का संपर्क ज़िला मुख्यालय से कट गया। अंदरूनी इलाके के दर्जनों गांव टापू में तब्दील हो गये है। इधर बाढ़ के चलते तुमनार के पास भयानक जाम लग गया है। प्रशासनिक दल मदद के लिए मौके पर मौजूद है। यात्री बसों में मुसाफिर अब भी फंसे हुए है।

सुकमा जिले में तो शबरी ने उफान में आकर आफत मचा रखी है। बैक वाटर NH30 पर आ गया है। दुब्बटोटा के पास नाले का पानी ओवरफ्लो हो गया। जिले भर में रेड अलर्ट जारी है। गोदावरी भी उफान पर है। जिले में बाढ़ के हालत तेजी से पनप रहे है।

तीनों जिले में प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर रखा है। बाढ़ आपदा प्रबंधन की टीम स्थिति का जायजा ले रही है। मौसम विभाग ने भी चेतावनी दी है । ऐसे में Theaware.co.in की तरफ से हम अपील करते है कि बारिश को देखते हुए आप यात्राएं स्थगित करे। और बाढ़ की अगर स्थिति बनती है तो लोगो की मदद करे।