बीजापुर @ बारिश के दिनों में बीजापुर के अंदरूनी इलाके टापू में तब्दील हो जाते हैं. जरूरत के सामान के लिए इन इलाकों में ग्रामीणों को मशक्कत करनी पड़ती है. आपरेशन में निकले जवान और हेल्थ चेकअप करने वाली टीम भी इससे अछूती नही रह पाती है. ऐसे ही नक्सली इलाके में स्वास्थ्य विभाग ने स्वास्थ्य कैम्प लगाकर इलाज किया है. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पामेड़ से आये चिकित्सक धीरज महोबिया ने इलाज किया जिसमें जिला बल और स्पेशल टास्क फोर्स का भी पूरा सहयोग मिला है।

  • बरसात शुरू होने के साथ ही बीमारियों ने दस्तक देना शुरू कर दिया है जिसे देखते हुए भोपालपटनम ब्लाक के दूरस्थ पहुंच विहीन ग्राम तोंगगुडा में स्वास्थ्य सुविधा स्वास्थ्य शिविर लगाया गया l जहां तोंगगुडा के साथ साथ आसपास के गांव जारपल्ली, मेहनदिगुडा , टेकलर के ग्रामीण अपना इलाज हेतु आए थे जिनका Phc पामेड़ के डाक्टर धीरज महोबिया , स्वर्ण प्रकाश वर्मा , एसटीएफ के नर्सिंग स्टाफ ,phc नर्सिंग स्टाफ के पूरी टीम के द्वारा opd लगाकर स्वास्थ सेवा दी गई l थाना पामेड़ के उपनिरीक्षक भास्कर शर्मा एसटीएफ कम्पनी कमांडर याद राम बघेल संयुक्त प्रयास से डाक्टर के टीम के द्वारा 70 ग्रामीणों का OPD मे चेकअप किया गया जिसमें 9 बुखार, पयोडर्म 14, एवम् 3 फंगल इंफेक्शन पाए गए।

अतिपिछड़े क्षेत्र में इस प्रकार का हेल्थ चेकअप शिविर का आयोजन कर के मौसमी बीमारियों से बचने के बारे में सभी ग्रामीणों को जानकारी दी गई मच्छरदानी लगा कर सोने का सलाह दिया गया। आसपास साफ सफाई रखने गड्डो में पानी जमा न होने देने हेतु बताया गया ,बासी भोजन न करने गर्म भोजन ही करने बताया गया बरसात में स्वस्थ्य रहने एवं सभी प्रकार के मौसमी बीमारियों से बचने के लिए जानकारी दी गई। स्वास्थ्य विभाग के द्वार जरूरत मंद को मच्छरदानी वितरण किया गया l बच्चों , बुजुर्गो को बिस्किट ,चाकलेट वितरण किया गया।