दन्तेवाड़ा@सुंदर वादियों में एक बस्तर है। और उनमें से सबसे अधिक खूबसूरती बटोरे बैलाडीला पर्वतों में बसा किरन्दुल है। अब इस शिखर पर बजरंगबली भी क्षेत्रवासियों को आशीर्वाद देने स्वयं विराज गये। हाल ही में हनुमान जन्मोत्सव के अवसर पर किरंदुल के लिए स्वर्णिम पल से एक नया अध्याय उस वक्त जुड़ गया । जब किरंदुल के गांधीनगर के ऊपरी पर स्थित नन्दी पर्वत पर हनुमान जी की विशालकाय गगनचुम्बी मूर्ति का अनावरण किया गया । यूँ तो किरंदुल क्षेत्र पहले से ही लौह पत्थर और बैलाडीला पहाड़ियों के मनोरम दृश्यों की वजह से पर्यटन के क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बना चुका है परन्तु इस विशालकाय बजरंगबली की आदमकाय प्रतिमा ने पर्यटन की दृष्टिकोण से एक सुनहरा पन्ना जोड़ दिया है ।

हनुमान जन्मोत्सव के दिन बड़े ही धूमधाम से इस मूर्ति का अनावरण किया गया जिसमे बढ़चढ़ कर नगरवासियो ने हिस्सा लिया । सुबह से ही हवन कार्य एवं सुंदर काण्ड के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया और फिर दिन भर नन्दी पर्वत पर भक्तों का तांता लगा रहा । मूर्ति अनावरण के शुभ अवसर पर नगरवासियो के लिए संस्था द्वारा भंडारा का भी आयोजन किया गया । अमूमन तीन हज़ार से अधिक संख्या में पहुँचे भक्तो में क्या बच्चे और क्या बुजुर्ग, सभी का जोश देखते ही बनता था । सभी वर्ग के लोगो ने भंडारा का आनंद लिया और अपनी तरफ से हर संभव योगदान एवं सेवा दिया ।

नन्दी पर्वत पर नवनिर्मित इस मूर्ति का सपना कई वर्षों से किरंदुल नगरवासी अपने दिलो में संजोए रखे हुए थे जिसे साकार किया बजरंगी सेवा संस्था के सदस्यों ने किरन्दुल नगर के लोगो के सहयोग से। नगर के युवाओं का इसमें खासा सहयोग रहा । संस्था सदस्यों में राहुल महाजन एवं गौरीशंकर तिवारी ने मूर्ति स्थापना करने की युवाओं की तरफ से पहल की और हर संभव प्रयास किया । लोकसुराज अभियान में आवेदन देने की दौड़ हो या फिर प्रशासनिक अधिकारियों से संवाद करना हो । नंदी पर्वत से राहुल महाजन और गौरीशंकर द्वारा बनाई गयी एक मनोरम वीडियो जिसमे मूर्ति निर्माण स्थल से नगर का मधुरम नज़रा दिखा कर प्रशासनिक अधिकारियों को इस संबंध में जानकारी दी गयी और इसे ही देखकर तात्कालिक दंतेवाड़ा कलेक्टर द्वारा फंड्स जारी किया गया और इस पहल को एक नई दिशा मिली । सरकारी मद से जारी निर्माण राशि से ही इस मूर्ति का सफल निर्माण हो पाया और जिसके लिए संस्था ने अपना आभार प्रकट किया । तत्पश्चात संस्था निर्माण कर पूर्व नपा अध्य्क्ष को भी इसमें समिलित किया गया । संस्था के सभी सदस्यों ने अपनी मेहनत और लगन से नगरवासियो के इस सपने को साकार कर दिखाया । पूर्व कलेक्टर सौरभ कुमार और एसडीएम सुभाषराज ने भी इस पुनीत कार्य मे महती भूमिका अपने स्तर से निभाई ।