दंतेवाड़ा@ समलूर गांव के चरण सिंह को 2016 में गांव के नजदीक बनी पुलिया में किसी अज्ञात व्यक्ति ने हत्या कर शव को पुलिया के पास ही फेंक दिया था। जिसकी रिपोर्ट फरसपाल थाने में दर्ज थी. हत्या की विवेचना में जुटी पुलिस ने चरण सिंह की हत्या में शामिल उसी के गांव के दो आरोपी मुरली ठाकुर और रामचन्द ठाकुर के नाम खुलासा करते हुये हत्या के आरोप में एक आरोपी मुरली ठाकुर को 28.6.2016 को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुँचा दिया।

लेकिन वही दूसरा आरोपी रामचन्द ठाकुर घटना के बाद से फरार हो गया। जिसकी तलाश में फरसपाल पुलिस सरगर्मी से जुटी हुई थी. फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने एक विशेष टीम फरसपाल टीआई जितेंद्र साहू के नेतृत्व में गठन कर आरोपी को बस्तर जिले के ग्राम कारेकोट(बिंता) के माँझीपारा थाना मारडूम से पकड़ने में कामयाबी हासिल की। गिरफ्तार दूसरे आरोपी को न्यालय में पेश कर जेल भेज दिया गया। इस तरह से 4 सालो के बाद फरसपाल पुलिस ने चरण सिंह दूसरे हत्यारे को पकड़ने में अहम कामयाबी हासिल की।