दंतेवाड़ा@लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग परियोजना खंड द्वारा 24 करोड़ 94 लाख रुपए की लागत से निर्मित छिंदनार ग्रामीण समूह जल प्रदाय योजना के कासोली फिल्टर प्लांट जिससे गीदम,छिंदनार,कासोली, हीरानार,घोटपाल, रोंजे,हारम, हाऊरनार और जावंगा के लोगों को पानी की

आपूर्ति होनी थी, उसके पूर्णतः बन जाने के बाद भी पानी का सप्लाई कार्य प्रारंभ नहीं हो पाया था। भीषण गर्मी पड़ने के कारण पानी की किल्लत से लोगों को जूझना पड़ रहा था । जिससे उनके मन में आक्रोश भर गया था । नवपदस्थ कलेक्टर दीपक सोनी को लोगों ने इस बारे में अवगत कराया।जिसे सुनकर उन्होंने तुरंत निर्णय लिया कार्यस्थल पर जाकर जांच पड़ताल की और जिम्मेदारों को दो दिन में प्लांट शुरू करने के निर्देश दिए साथ ही ठेकेदार को नोटिस भी दिया। कलेक्टर सोनी के निर्देशानुसार स्वास्थ्य यांत्रिकी की टीम कार्यपालन अभियंता जगदीश कुमार, एसडीओ पीएन चिटनाविस ,उप अभियंता प्रकाश मरकाम के निरीक्षण में प्लांट का कार्य शुरू किया गया और बचे हुए कार्यों को मैसर्स महामाया कंस्ट्रक्शन रायपुर द्वारा पूरा किया गया।

छिंदनार वाटर प्रोजेक्ट

एसडीओ चिटनाविस ने बताया कि अभी गीदम में वाटर सप्लाई टेस्टिंग चल रही है, कल से जावंगा और अन्य गांवों में भी टेस्टिंग शुरू कर दी जाएगी और दो-तीन दिन में ही पानी की निरंतर सप्लाई शुरू कर दी जाएगी। प्लांट बहुत दिन से बंद पड़ा था, तो मशीनों की ऑयलिंग की गई है ,प्लांट में पानी को साफ करने की प्रक्रिया शुरू की गई है। पाइपलाइन, टैंक की भी जांच की जा रही है कि कहीं से लीकेज तो नहीं है। अभी मुख्य पाइप लाइन में पानी प्रवाहित करके परीक्षण किया जा रहा है ।इसलिए पानी सप्लाई में दो-तीन दिन लग रहे हैं पर लोगों को शुद्ध पेयजल मिल सकेगा और पानी की समस्या से लोगों को निजात मिल जाएगा

गीदम नगर पंचायत की सीएमओ मीनाक्षी नाग ने बताया कि अभी नगर में पानी के टैंकर से 9 हजार लोगों तक जल आपूर्ति की जा रही थी, जिसमें उन्हें बहुत समस्या होती थी पर अब छिंदनार ग्रामीण समूह जलप्रदाय परियोजना के शुरू हो जाने से पाइप लाइनों के माध्यम से घरों-घर जलापूर्ति होगी,