आपातकाल में सेवा दे रहे कर्मियों का कट रहा चालान

जान जोखिम में डालकर काम करने वालों को भी नहीं बख्‍श रही यातायात पुलिस

लॉकडाउन के बीच हेलमेट अभियान को लेकर लेागों में जमकर नाराजगी

दंतेवाडा- आज देश आपात काल के दौर से गुजर रहा है। लॉकडाउन के बाद विशेष अनुमति प्राप्‍त कर्मचारी ही कार्यालयों में जाकर काम कर रहे हैं। इस तरह जान जोखिम में डालकर काम कर रहे कर्मचारियों पर यातायात पुलिस भारी पड रही है। जान जोखिम में डालकर काम करने के एवज में कर्मचारियों को उल्‍टे नुकसान उठाना पड रहा है। यातायात पुलिस नियमों का हवाला देते इन कर्मचारियों का चालान काट रही है, इसे लेकर कर्मचारियों में गहरा आक्रोश व्‍याप्‍त है।

लाकडाउन के बीच ही यातायात पुलिस को हेल्‍मेट अभियान की याद आई और वे हेलमेट नहीं पहनने वालों पर चालानी कारवाई कर रहे हैं। शनिवार की शाम एक बार फिर यातायात पुलिस ने टेकनार चौक में चालानी कार्रवाई शुरू की, इस कार्रवाई की चपेट में सबसे पहले बचेली एसडीएम के रीडर डीएस शांडिल्‍य आ गये। कार्यालय से काम निपटा कर जब ये अपने घर वापस लौट रहे थे तब टेकनार चौक में पुलिस ने इन्‍हें रोका और हेलमेट नहीं पहनने के चलते पांच सौ रूपये का चालान भी काटा। श्री शांडिल्‍य ने बताया कि वे आपातकाल में काम रहे कर्मचारियेां में से एक है, तब भी पुलिस ने उनकी एक न सुनी और पांच सौ का चालान उनके हाथों में थमा दिया। इतना ही नहीं आपातकाल में ड्यूटी कर अन्‍य कर्मचारियों में भी यातायात प्रभारी श्री बिसेन के रवैये को लेकर नाराजगी देखी जा रही है। इस मामले मेें यातायात प्ररभारी का पक्ष जानना चाहा पर उनसे संपर्क नहींं हो सका ।