वीडियो देखिये

दन्तेवाड़ा@ लोकसभा चुनाव आते ही राजनैतिक पार्टीया प्रचार प्रसार के साथ जुबानी हमले एक दूसरे पर तेज कर दिए। भाजपा के तरफ से पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी दन्तेवाड़ा चुनाव प्रचार के लिए पहुँचे हुए थे। बचेली में जनसंपर्क के बाद नकुलनार प्रचार के पहुँचे ओपी चौधरी का जमकर भाजपाईयों ने स्वागत किया।

सुनिये लिंक पर ओपी चौधरी को

महाराणा प्रताप चौक में चौधरी ने साप्ताहिक बाज़ार के बीच जमकर भाजपा प्रत्याशी बैदूराम कश्यप के समर्थन कांग्रेस पर हमला करते हुए इस बार लोकसभा में मोदी सरकार को जिताने की अपील की। ओपी चौधरी ने अपने दन्तेवाड़ा कार्यकाल में शिक्षा और सड़कों के लिए किये कामो को लोगो से साझा किया। साथ यह भी कहा कि माँ दंतेश्वरी के द्वार पर मैंने देवी माँ से प्रार्थना कि है कि देश को इस वक्त प्रधानमंत्री मोदी जैसे नेतृत्व की जरूरत है। इसलिए मैंने खुद कलेक्टर पद को छोड़ राजनीति के माध्यम से जन सेवा का निर्णय लिया। मैने दन्तेवाड़ा को नजदीक से देखा है। 2003 के पहले यहाँ सड़के नही थी स्कूलों की हालत जर्जर थी। मगर भाजपा ने यहां बदलाव दिया। आज गरीबो का नमक कांग्रेस ने बन्द कर दिया, और मोदी सरकार ने गरीबो को डेढ़ लाख रुपये का पक्का मकान दिया। एक तरफ मोदी जी जैसा नेतृत्व खड़ा है। तो दूसरी ओर कांग्रेस में परिवारवाद का ऐसा नेतृत्व खड़ा है जिसे लोग पप्पू कह रहे है। दीपक बैज को कांग्रेसियों ने मैदान में बस्तर से उतारा है। अगर जनसेवा का ही उनसे लेनी है तो उन्हें मंत्री पद देकर भी बस्तर की सेवा करवा सकते थे। मगर बस्तर का विकास कांग्रेस चाहती नही। ऐसे ही तीखे हमलों के साथ ओपी चौधरी ने 15 मिंट तक कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा।

प्रचार प्रसार के साथ हाट बाजारों में एक एक व्यक्ति से मिलकर भाजपा के समर्थन में प्रचार किया। साथ ही 2008 विधानसभा चुनाव में भाजपा के प्रचार में नक्सली हमले जान गवाने वाले नकुलनार के प्रत्याशी स्व.रमेश सिंह राठौर और स्व.सूर्यप्रकाश सिंह चौहान के परिजनों से मिलने चौधरी पहुँचे हुए थे। साथ ही सतनेश सविता पुराने कार्यकर्ता से भी मिलने गए। पूर्व कलेक्टर दन्तेवाड़ा में रहे चौधरी से मिलने कई लोग पहुँचे। भाजपा की तरफ से वरिष्ठ भाजपा के नेता श्रीकुमार सिंह, रामबाबू गौतम, नंदलाल मुड़ामी, चैतराम अटामी, दीपक बाजपेयी के साथ जिले भर के भाजपाई मौजूद रहे।