देखिये पुलिस की मदद इस लिंक पर:-

दन्तेवाड़ा@ गीदम पुलिस ने विक्षिप्त दिव्यांग महिला को मानवीयता दिखाते हुए मदद कर इलाज के लिए मनोरोग चिकित्सालय बिलासपुर सेन्द्री भिजवाया।

दरअसल गीदम पुलिस को जानकारी मिली थी कि एक दिव्यांग महिला गीदम बस स्टैंड के आसपास घूम रही है। और मानसिक स्थिति खराब होने के वजह से गाड़ियों में पथराव कर रही है। मौके पर पुलिस महिला पुलिसकर्मियों के साथ पहुँचकर महिला को देखकर मानवीय संवेदनाओं को देखते हुए नाम पता पूछा पर महिला गोंडी भाषा बोल रही थी। जिसे बाद में हिंदी में अनुवाद कराकर पुलिस पता लगाया कि महिला बारसूर थाने के तुमरीगुंडा की है। और जिसका नाम सामो मंडावी है। परिजनों से प्रयास करने के बाद भी कोई सम्पर्क नही होने के बाद पुलिस ने स्वास्थ्य अधिनियम 1987 की धारा 23 के तहत दन्तेवाड़ा न्ययालय में प्रस्तुत कर गीदम अस्पताल के डॉक्टरों की मदद से महिला को मनोरोग अस्पताल बिलासपुर सेन्द्री में पहुँचा दिया। ताकि महिला का उचित उपचार हो सके।

गीदम पुलिस की मानवीय संवेदनाओं की चर्चा आम जनता में है। गीदम टीआई हेमप्रकाश नायक द्वारा आम जन से अपील भी की गई है। थानाक्षेत्र इलाके में कोई भी विछिप्त या दिव्यांग मजबूर कोई भी दिखता है तो पुलिस को सूचना करे तत्काल मदद की जाएगी।