दन्तेवाड़ा- कोरोना वाइरस के संक्रमण को देखते हुए पूरे देश मे आपातकाल जैसी स्थिति निर्मित हो गयी है, छतीसगढ़ में भी जरूरी सेवाओ को छोड़कर शेष कारोबार लॉक डाउन किया गया।इसी वजह से दन्तेवाड़ा जिले के कुआकोंडा थाना में कुआकोंडा तहसीलदार विद्याभूषन साव व थाना प्रभारी ने ग्राम पंचायत नकुलनार के सरपंच,उपसरपंच के साथ व्यापारी भी मौजूद थे.

बैठक के दौरान सुकमा जिले के मिनपा मुठभेड़ में शहीद 17 जवानों को 2 मिंट का मौन रखकर श्रीधाजलि सभी ने दी. साथ ही दन्तेवाड़ा जिले में पूर्ण रूप से 144 धारा लागू है बताया गया. साथ ही कोरोना के संक्रमण से कैसे बचाव किया जाये यह भी समझाया गया इतना ही नही लोगो के बेफिजूल चौक चौराहे पर जमावड़े पर पुलिसिया एक्शन की बात भी निकलकर सामने आई। बैठक के दौरान कुआकोंडा के मैडिकल स्टाफ के नही पहुँचने से जमकर जनप्रतिनिधियों में स्वास्थ्य महकमे और कुआकोंडा बीएमओ के खिलाफ नाराजगी दिखी।

क्योकि कोरोना संक्रमण की महामारी को रोकने के लिए सजगता और जागरूकता दोनों अनिवार्य है। नकुलनार में जरूरी आवश्यकता की दुकानें भी चेन सर्कल में रोटेशन में खोलने की बात कही गयी। साथ ही बैंकों में भी नजर रखी जायेगी। ताकि बेतहाशा भीड़ जबरन बैंक में न लगे। इसके साथ ही दीगर प्रदेशों से श्रमिक वर्ग जो काम कर घर वापसी में पहुँच रहे है। उन पर विशेष निगरानी रखने की बात कही गयी।