दंतेवाड़ा@ कोरोना की दूसरी लहर का संक्रमण प्रदेश को अपने आगोश में तेजी से समेट रहा है.कोरोना के बढ़ते संक्रमण के खतरे को भांपते हुये दंतेवाड़ा जिला प्रशासन ने भी कमर कसते हुए जिलेभर में 18 अप्रैल से 27 अप्रेल तक लॉक डाउन लगाकर स्तिथि को नियंत्रण में करने की कवायद तेज कर दी है।

दंतेवाड़ा कलेक्टर दीपक सोनी ने जिले में 21 स्थानों को वैक्सीन सेंटर बनाया है। इन सेंटरों में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगो को कोरोना का टीकाकरण लगवाने के लिए युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। कलेक्टर दीपक सोनी व जिला पंचायत सीईओ अश्विन देवांगन स्वयं जिलेभर की कोरोना को लेकर स्थितियों का जायजा ले रहे है। सोशल मीडिया के माध्यम से कलेक्टर होम आईशोलेट हुये मरीजो से ऑनलाइन सीधा संवाद कर उनके हालचाल भी ले रहे है।

कुआकोंडा कोविड टीकाकरण केंद्र

वही दूसरी तरफ कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए पहुँच रहे ग्रामीणों को विशेष सुविधाओं के साथ कोरोना टिका लगवाने की व्यवस्था की गई है। कुआकोंडा ब्लाक के हाई स्कूल में बने सेंटर में नकुलनार,गढ़मिरी, श्यामगिरी, गोमपाल, हल्बारास तक से ग्रामीण टीकाकरण के लिए पहुँच रहे हैं। रविवार को 130 ग्रामीणों ने टीके की पहली खुराक लगवाई। वही ग्रामीणों के टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य अमला, शिक्षा विभाग,पंचायत सचिव सभी को उनके स्तरों पर जवाबदारियां दी गयी है। केंद्र में ग्रामीणों के लिये समूहों के माध्यम से भोजन व्यस्था के साथ ही टीकाकरण के बाद आधे घण्टे तक आब्जर्व में रखने की व्यवस्था भी की गई है।