पुलिस लाइन शांतिकुज में देरशाम पांडे कवासी सीएनएम सदस्य दुप्पटे से फांसी लगाई

दंतेवाड़ा@ आत्मसमर्पित महिला नक्सली ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस खबर से पुलिस महकमे में हड़कप मच गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ‘लोन वर्राटु’ अभियान से प्रभावित होकर 19 फरवरी को सीएनएन सदस्य पांडे कवासी ने आत्मसमर्पण किया था। महिला कारली पुलिस लाइन शांतिकुंज में रह रही थी, लेकिन आज देर शाम पांडे कवासी ने बाथरूम में दुप्पटे के सहारे फंदे से झूलकर आत्महत्या कर ली है।

पांडे कवासी समर्पण के वक्त की तस्वीर

खबर से पुलिस लाइन शांतिकुंज में हड़कंप मच गया। मृतिका का शव जिला अस्पताल पहुंचाया गया है। आत्मसमर्पित महिला नक्सली ने आत्महत्या क्यों की इसका ख़ुलासा नही हो पाया है। मामले की पुष्टि दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने की है। जानकारी के लिये यह भी बता दे कि पुलिस के इसी अभियान में 300 से अधिक नक्सली सरेंडर कर चुके हैं। पर सवाल यह भी उठता है कि अगर पांडे कवासी नक्सली नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर मुख्यधारा में जुड़ना चाहकर ही सरेंडर किया तो आखिर उसने आत्महत्या का कदम क्यो उठाया? ओ भी पुलिस लाइन में जहाँ सैकड़ो जवान रहते हैं। खैर आत्महत्या की वजह स्पष्ट नही हुई है। पुलिस जांच कर रही हैं