राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने आगरा हाईवे पर अपने छोटे बच्चे को सूटकेस पर लिटाकर उसे खींच रही मां के बारे में मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर में संज्ञान लिया है। कथित तौर पर प्रवासी महिला पंजाब से लेकर उत्तर प्रदेश के झांसी तक कहीं हाईवे पर अपनी बच्चे के साथ पैदल जा रही रही थी और अपने थके हुए बच्चे को सूटकेस पर लाद कर खींच रही थी। मीडिया में इस महिला की तस्वीर ने ध्यान आकर्षित किया था। आयोग ने पाया कि वह अभूतपूर्व स्थिति से अवगत है और केंद्र और राज्य सरकारें लॉकडाउन के दौरान आने वाले हर मुद्दे का समाधान करने के लिए ईमानदारी से काम कर रही हैं, लेकिन यह अजीब है कि स्थानीय अधिकारियों द्वारा बच्चे और परिवार के दर्द को देखा और महसूस किया जा सकता था।

https://hindi.livelaw.in/category/news-updates/sufferings-of-migrant-labourers-not-coming-to-a-halt-nhrc-takes-cognizance-of-mother-pulling-suitcase-with-exhausted-kid-sleeping-on-156952