दंतेवाड़ा@प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर सोमवार को ब्लॉक कांग्रेस कमेटी कुआकोंडा द्वारा नकुलनार में एक दिवसीय किसान सम्मेलन आयोजन किया गया। सम्मेलन प्रारंभ होने से पहले दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के दौरान 155 किसानों की अबतक आंदोलन में मृत्यु हो गयी. उन्हें दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी गई।

किसान सम्मेलन के लिये जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा कुआकोंडा ब्लॉक प्रभारी सलीम रज़ा उस्मानी ने पत्रकार वार्ता में कहा कि भारत के अन्नदाता अपने खेती,आजीविका को बचाए रखने के लिए ऐतिहासिक तौर पर विगत दो माह से अधिक लंबे समय से नई दिल्ली में तीन किसान कानून को वापस लेने के लिए केंद्र की मोदी सरकार से अपनी मांगों को लेकर संघर्षरत हैं। लेकिन मोदी सरकार अपने अड़ियल रुख पर ही कायम है। किसान अपनी जान गवां रहे है,जबकि उन्हें देशद्रोही और आतंकवादी करार दिया जा रहा है। कांग्रेस किसान विरोधी बिल को तुरंत वापस लेने की माँग करते हुए किसानों के इस आंदोलन के साथ खड़ी है। किसानों के आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस द्वारा आगामी दिनों में जिले के चारो ब्लॉक में पदयात्रा निकालेगी।

इस दौरान ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष भास्कर रॉठोर, वरिष्ठ कांग्रेसी शिव शंकर सिंह,सरपंच सावन नाग,सरपंच सन्मति तेलामी, दारा सिंह, रजत नागवंशी, मन्तरू राम,शंकर तामो, सुखदेव कुंजाम, रामा तामो, मंगू कुंजाम, पिंटू कुंजाम, जितेंद्र कोर्राम, मनोज नाग,शिव नागवंशी, कमल नाग,विजय बालड, माहवीर सिन्हा, सम्पत सिन्हा, रामसिंह सहितअन्य कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।