दंतेवाड़ा@ इस निर्माण की शाखाओं में मार्च एकाउंट में भी चलित निर्माण कार्यो के चेक नही कटने से ठेकेदारों की होली का रंग फीका पड़ गया है।

दरअसल लोकनिर्माण विभाग दंतेवाड़ा में जिले में चल रहे समस्त निर्माण कार्यो के चेक मार्च एकाउंट में भी नही कट पाये। बताया जा रहा है कि 24 मार्च को चेक काटने की अंतिम तिथी थी पर ऑनलाइन चेक काटने के लिए बने विभागीय सर्वर राज्य भर में डाउन हो गया। जिसके चलते चेक नही कट सके। राज्य भर में हजारो ठेकेदारों के चेक से भुगतान नही होने पर ठेकेदारों के सामने जटिल समस्या पैसों के अभाव में खड़ी हो गयी है।

खासकर दंतेवाड़ा लोक निर्माण विभाग में 24 मार्च को सर्वर डाउन होने से पहले जीएसटी की राशि का चेक कटवा दिया गया। जिसके बाद से ठेकेदारों के चेक कटने बन्द हो गये। वित्तीय वर्ष की चेक बुक ट्रेजरी में जमा कर दी गयी है। जो कि अगले ही वित्त वर्ष में चेक आहरण हो सकते हैं।जानकर ठेकेदारों की अगर माने तो यदि लोक निर्माण विभाग जीएसटी के चेक पहले नही काटती तो जिलाधीश से विशेष अनुमति लेकर भी 31 मार्च को निर्माण कार्यो के चेक काटे जा सकते थे। पर यह भी स्थिति अब शून्य नजर आ रही है।

सबसे बड़ी समस्या उन रनिग कार्यो के बिल की है जिन पर कार्यो की समय सीमा 31 मार्च तक थी। उन्हें अगले वित्त वर्ष में भी चेक कटवाने से पहले समयवृद्धि की अनुमति लेनी पड़ेगी। तभी उन्हें भुगतान हो सकेगा।हालांकि दंतेवाड़ा ई जे थॉमस ने कहा था कि दंतेवाड़ा कलेक्टर से अनुमति पर चेक कटवाये जायेगे। पर विभाग ने पहले ही जीएसटी चेक काटकर ठेकेदारों की उम्मीदों को धूमिल कर दिया।