दंतेवाड़ा@ जिला मुख्यालय के कटेकल्याण में स्व. शहीद महेंद्र कर्मा की स्मृति में आयोजित खेल महोत्सव का आज रंगारंग समापन हुआ। समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में विधायक देवती कर्मा व पूर्व जिपं अध्यक्ष व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता छबिन्द्र कर्मा उपस्थित हुए। सर्वप्रथम विधायक देवती कर्मा ने स्व. महेंद्र कर्मा के तस्वीर पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की। विधायक देवती ने कहा कि कटेकल्याण में ऐसा महोत्सव ना कभी देखा ना कभी सुना। इस महोत्सव में हमारे ग्रामीण प्रतिभागियों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया ये गर्व की बात है। हर कोई यहां खेल महोत्सव के रंग मैं रंगा हुआ है।

खेल समापन की तस्वीरें

तुलिका को इस आयोजन के लिए ढेरो बधाई, जिन्होंने ग्रामीणों से जुड़ने खेल को माध्यम बनाया। खिलाड़ियों से मेरी अपील है कि हमेशा ऐसे ही खेल भावना में खेल अपने माता-पिता व जिले का नाम रौशन करें। छबिन्द्र कर्मा ने कहा कि समाज से जुड़ने का सबसे अच्छा माध्यम खेल है। खेल महोत्सव में पहुँचे सभी खिलाड़ियों की प्रतिभा को देख आश्चर्यचकित हूं। छबिन्द्र ने आगे कहा कि खेल में ईमानदारी बहुत जरूरी है। जो इंसान अपने प्रति ईमानदार है वह निश्चित ही अपने टीम के प्रति वफादार होगा। जिलाध्यक्ष अवधेश गौतम ने कहा कि खेल महोत्सव ने कटेकल्याण वासियों के दिल में जगह बनाई है। इस आयोजन के दूरगामी परिणाम हमकों देखने को मिलेगा। अंत में आभार प्रदर्शन करते हुए जिपं अध्यक्ष ने कहा की आयोजन समिति से जुड़े समस्त सदस्यों का आभार।

तुलिका ने कहा कि अगर मैंने इस आयोजन के लिए 8 घंटे मेहनत की है तो पूरी टीम ने 12 घंटे मेहनत करी है। पुलिस के अधिकारियों-कर्मचारियों का आभार, जिन्होंने इस महोत्सव को सुरक्षा प्रदान की जिससे यह महोत्सव निर्विध्न संपन्न हो पाया। विजेता टीम को बधाई साथ जो टीम हार गई उन्हें बस यही कहूंगी की आज आपकी हार हुई पर कल आप विजेता बनेंगे। हार से कभी निराश नहीं होना है बस दोगुने ताकत से फिर से मैदान में उतरना है। इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेसी नेता वीरेन्द्र गुप्ता, सलीम रजा उस्मानी, जेपी मरकाम, जिला पंचायत सदस्य शंकर कुंजाम, सुखराम, मेहत्तर नाग, लखमू, महावीर, मनीष भटाचार्य, विवेक देवांगन, सावन ठाकुर, महिला जिलाध्यक्ष इंद्रा शर्मा, गीतांजलि कुशवाहा, इंद्रा ठाकुर, किशनदई समेत अन्य उपस्थित।

ये टीम रही विजेता
खेल महोत्सव में इस बार धनीकरका का दबदबा रहा। व्हालीवाल में पुरुष वर्ग में मोखपाल ने बाजी मारी तो उपविजेता सुरनार रहा। वहीं महिला वर्ग में बड़ेबेडमा ने बाजी मारी तो बेंगलुरू दूसरे स्थान पर रहा। कबड्डी में धनीकरका विजेता बना तो मोखपाल दूसरे स्थान पर कब्जा जमाया। महिलाओं में ऐडपाल प्रथम द्वतीय स्थान पर धनीकरका रहा। तीरन्दाजी में मार्जुम के शिवो राम विजेता रहे तो माहराकरका के आलोक दूसरे स्थान पर कब्जा जमाया। मटका फोड़ में गाटम की जानकी प्रथम तो मथाड़ी की सन्नी मंडावी दूसरे पायदान पर कब्जा जमाया। रस्साखींच में गाटम प्रथम तो दूसरे स्थान तेलम ने बाजी मारी।